यूपी के सह चुनाव प्रभारी अनुराग ठाकुर ने मिशन-यूपी को लेकर मंथन किया

 
 यूपी के सह चुनाव प्रभारी अनुराग ठाकुर ने मिशन-यूपी को लेकर मंथन किया

केंद्रीय मंत्री और यूपी के सह चुनाव प्रभारी अनुराग ठाकुर ने मिशन-यूपी को लेकर मंथन किया। युवाओं को जोड़ने की मुहिम को लेकर युवा मोर्चा की टीम को तीन टॉस्क सौंपे गए। इसमें शहर से गांव तक नए लोगों को जोड़ने का काम शामिल है जबकि पार्टी की आवाज को धारदार ढंग से पहुंचाने और विरोधियों पर तीखे हमले करने की रणनीति मीडिया टीम संग तय की गई। ठाकुर इन सभी मोर्चों पर अब लगातार समीक्षा करने यहां आएंगे।

पार्टी के राज्य मुख्यालय पर पहली बैठक उन्होंने युवा मोर्चा की प्रदेश टीम के साथ की। इसमें मोर्चा को चुनावी टॉस्क समझा दिया गया। सौ दिन-सौ काम वाले अभियान के तहत मोर्चा को अभी तीन प्रमुख कामों का जिम्मा सौंपा गया है।

इनमें सबसे पहला काम उन प्रोफेशनल युवाओं को पार्टी से जोड़ने का है, जिनकी अभी तक भाजपा की रीति-नीति और कार्यक्रमों से दूरी है। उनके लिए प्रदेश के 18 महानगरों में नवंबर में यूथ कॉन्क्लेव आयोजित किए जाएंगे। युवा मोर्चा इन्हें आयोजित तो कराएगा लेकिन बैनर पार्टी का नहीं होगा। मंच पर भी भाजपा के नेता नहीं विभिन्न क्षेत्रों के विशेषज्ञ होंगे जो मोदी और योगी सरकार के काम समझाएंगे। दूसरा कार्यक्रम होगा खेलेगा जिला-जीतेगा यूपी।

इसमें जिस जिले में आयोजन होगा, वहीं का नाम जुड़ जाएगा। इसके तहत हर जिले में वहां युवाओं की रुचि के हिसाब से तीन खेल चुने जाएंगे। उनकी प्रतियोगिता कराई जाएंगी। विजेताओं को जिला स्तर पर पुरस्कृत किया जाएगा।

इसके जरिए ग्रामीण युवाओं को जोड़ने की योजना है। युवा मोर्चा को तीसरा जिम्मा युवा सम्मेलन कराने का दिया गया है। यह सम्मेलन दो विधानसभा क्षेत्रों को मिलाकर किया जाना प्रस्तावित है। प्रदेश महामंत्री संगठन सुनील बंसल ने इन कामों को तय समय सीमा में पूरा करने को कहा है। बैठक में युवा मोर्चा के प्रभारी पंकज सिंह, सह प्रभारी अर्चना मिश्रा व सुभाष यदुवंश, प्रदेश अध्यक्ष प्रांशुदत्त द्विवेदी और प्रदेश महामंत्री मौजूद रहे।

हर फेक न्यूज का करें तत्काल खंडन

अनुराग ठाकुर के जिम्मे युवाओं को जोड़ने के साथ ही पार्टी के मीडिया और प्रचार अभियानों की भी कमान है। मीडिया टीम के साथ बैठक में पहले सभी प्रदेश प्रवक्ताओं द्वारा हाल में किए गए जिला प्रवास की जानकारी ली गई। कहा गया कि चुनाव का वक्त है। इस वक्त कुछ लोग फेक न्यूज के जरिए तरह-तरह की अफवाहें फैलाएंगे। ऐसे में अलर्ट रहने की जरूरत है। ऐसी खबरों का तत्काल खंडन किया जाए।

लगातार संपर्क बढ़ाने और सरकार की योजनाओं को जनता तक पहुंचाने को प्रभावी ढंग से अपनी बात रखने को कहा गया। वहीं विपक्ष के हर वार का भी कड़ा जवाब दिया जाएगा। तय हुआ कि राष्ट्रीय सह मीडिया प्रभारी संजय मयूख लगातार यहां डेरा डालेंगे। बैठक में प्रदेश अध्यक्ष स्वतंत्रदेव सिंह, राष्ट्रीय सह मीडिया प्रभारी संजय मयूख सहित पार्टी के मीडिया प्रभारी, सह प्रभारी, प्रवक्ता और सोशल मीडिया इंचार्ज मौजूद रहे।