69हजार शिक्षक भर्ती ,को ले कर अभ्यार्थियों और पुलिस के बीच झड़प

 
शिक्षक भर्ती

लखनऊ : शिक्षक अभ्यार्थी लंबे समय से अपनी मांगों को लेकर संघर्ष कर रहे है शिक्षक भर्ती के तहत एक लंबे समय से खींचातानी चल रही है परंतु प्रशासन अभ्यार्थियों के एक सुनने को तैयार नहीं है वही अभ्यार्थी जिनमें महिलाएं भी शामिल हैं इस धरना प्रदर्शन मे अपनी मांगो को ले कर प्रशासन के सामने एक सवालिया निशान बनी है परंतु इन प्रदर्शनकारियो की कोई सुनवाई नहीं हो रही है।

शिक्षक अभ्यर्थियों की मांग है कि, 69 हजार शिक्षक भर्ती में खाली 22 हजार पदों को उसी भर्ती में जोड़ा जाए एवं उन्हें चयनित किया जाए।अभ्यर्थियों द्वारा दिए जा रहे इस धरने को लगभग तीन महीने से अधिक का समय हो रहा है।

राजधानी में प्रदर्शन कर रहे अभ्यर्थी कई हफ्ते से पानी की टंकी में चढ़े हुए हैं। नौकरी के लिए भटक रहे नौजवान प्रदेश के अलग-अलग जिलों से पहुंचे हैं। जिसमें पुरुष एवं महिला दोनों अभ्यर्थी शामिल हैं। आंदोलनरत अभ्यर्थियों ने आज SCERT कार्यालय का घेराव करने के लिए वहां पहुंचने का भी प्रयास किया। लेकिन भारी पुलिस बल लगे होने के चलते दोनों के बीच नोकझोंक हो गई।

SCERT कार्यालय की तरफ जा रहे अभ्यर्थियों को पुलिस ने धकेला। फिर भी जद्दोजहद करते हुए कुछ अभ्यर्थी कार्यालय पहुंचने में सफल रहे। कार्यालय परिसर में घुसकर अभ्यर्थियों ने जमकर नारेबाजी की। उनकी मांग है कि, वह SCERT महानिदेशक से मिलकर अपनी बात रखना चाहते हैं। उनकी एक प्रमुख मांग यह भी है कि, मुख्यमंत्री की अध्यक्षता में बनी कमेटी शिक्षक भर्ती में 22 हजार सीटें जोड़ने पर जल्द निर्णय ले।