चाईल्ड लाईन 1098 परियोजना का द्वितीय स्थापना दिवस मनाया गया, दो साल में 720 बच्चों को मिली राहत

 
चाईल्ड लाईन 1098 परियोजना का द्वितीय स्थापना दिवस मनाया गया, दो साल में 720 बच्चों को मिली राहत

जागेशवर प्रसाद वर्मा कि रिपोर्ट 

बलौदाबाजार

चाईल्डलाईन इंडिया फाउंडेशन के सहयोग से गृहिणी स्वयं सेवी संस्था के द्वारा संचालित चाईल्ड लाईन 1098 परियोजना का द्वितीय स्थापना दिवस मनाया गया। इस अवसर पर मुख्य अतिथि के रूप में जिला पुलिस अधीक्षक आई के ऐलिसेला उपस्थित थे। मुख्य अतिथि के द्वारा बच्चों के साथ मिलकर माँ सरस्वती की पूजा अर्चना के बाद 1098 का दीप प्रज्वलित कर केक काटकर स्थापना दिवस समारोह का शुभारंभ किया गया। उन्होंने समाज को बच्चों की गतिविधियों पर विशेष ध्यान रखने को कहा। इस मौके पर विशिष्ट अतिथि एएसपी पीताम्बर पटेल, अतिरिक्त कार्यपालन अधिकारी हरिशंकर चौहान, जिला परियोजना अधिकारी एल आर कच्छप, बाल कल्याण समिति अध्यक्ष  सन्ध्या बाजपेयी, सदस्य अपर्णा सराफ, शारदा सोनी, वीणा वर्मा, प्रवीण अग्रवाल, परियोजना अधिकारी मुन्नी पन्थ, बाल संरक्षण अधिकारी प्रभार विजय दिवाकर, जिला कार्यक्रम प्रबंधक विक्रम सिंग, ऑंगनबाड़ी सुपरवाइजर  गिरजा वर्मा, सुनीता वर्मा, प्रभा मांडले, निर्मला आदि उपस्थित थे।

जिला परियोजना अधिकारी ने देख रेख व संरक्षण वाले बच्चों के लिए कार्य करने ,बच्चों के स्वास्थ्य व शिक्षा पर विशेष महत्व देने की बात कही, बच्चों को पूर्ण सुरक्षा, सहयोग प्रदान करने के लिए भरोसा दिया। उन्होंने चाइल्ड लाइन टीम एंव पुलिस को साथ मिलकर विधि के साथ संघर्षरत बच्चों के बेहतर पुनर्वास के लिए कार्य करने हेतु कहा है। इसके लिए हर संभव सहयोग व मिलकर कार्य करने की बात कही। गृहणी स्वंय सेवी संस्था की अध्यक्ष रूपा श्रीवास्तव के द्वारा संस्था का परिचय दिया गया। व केन्द्र समन्वय रेखा शर्मा के द्वारा चाईल्ड लाईन की गतिविधियों की जानकारी दी गई उन्होंने बताया कि विगत 2 वर्षों में 720 बच्चों को सहयोग कर चुके हैं व यह निरतंर जारी रहेगा । कार्यक्रम के मुख्य आकर्षण साहिल यादव द्वारा मैजिक शो दिखाया गया। जिसे सभी ने बहुत सराहा। कार्यक्रम में  सखी वन स्टॉफ से तूलिका परगनिहा, चाईल्ड लाईन काउंसलर गीता वर्मा, टीम मेम्बर सुरेंद्र वर्मा, सोमेन्द्र साहू, गिलिश चतुर्वेदी, जितेंद्र भारती, उषा साहू, मीरा साहू, तोमेश वर्मा, वालिंटियर टुकेश तिवारी व आम नागरिक व बच्चों का विशेष सहयोग रहा।