मुंबई में कोविड मामलों में गिरावट जारी

वर्तमान में जारी कोरोना लहर में मुंबई में एक दिन में मामले 20 हजार के पार पहुंच गए थे। हालांकि पिछले एक सप्ताह से इनमें गिरावट जारी है। हालांकि यह अभी तक ज्ञात नहीं है कि यह गिरावट मुंबई में कोरोना मामालों में कमी के चलते आ रही है या कोविड टेस्ट की संख्या में कमी के चलते आ रही है।  

 
fg
मुंबई में शनिवार को भी कोरोना मामलों में गिरावट जारी रही। शहर में आज 10,662 ताजा संक्रमणों के मामले दर्ज किए गए। बृहन्मुंबई नगर निगम के आंकड़ों से पता चला है कि लगभग 84% संक्रमित लोग बिना लक्षण वाले हैं। पिछले 24 घंटों में 11 मौतें दर्ज की गई हैं। इस दौरान कुल 54,558 कोविड टेस्ट किए गए। शुक्रवार को, मुंबई की 24 घंटे की टैली 11,317 थी; गुरुवार को यह संख्या 13,702 थी। 

वर्तमान में जारी कोरोना लहर में मुंबई में एक दिन में मामले 20 हजार के पार पहुंच गए थे। हालांकि पिछले एक सप्ताह से इनमें गिरावट जारी है। हालांकि यह अभी तक ज्ञात नहीं है कि यह गिरावट मुंबई में कोरोना मामालों में कमी के चलते आ रही है या कोविड टेस्ट की संख्या में कमी के चलते आ रही है।  

शनिवार को जारी बीएमसी के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में 722 मरीज अस्पताल में भर्ती हुए और उनमें से 111 ऑक्सीजन पर हैं। मुंबई का रिकवरी रेट 91 फीसदी और डबलिंग रेट 43 दिन है। शहर में कुल 58 इमारतों को सील कर दिया गया है और वर्तमान में नगर पालिका क्षेत्र में कोई भी झुग्गी-झोपड़ी और चॉल सील नहीं है।

स्वास्थ्य विभाग के महाराष्ट्र के अतिरिक्त मुख्य सचिव, डॉ प्रदीप व्यास ने शनिवार को कहा कि मौजूदा उछाल ओमिक्रॉन वैरिएंट के चलते देखी गई, लेकिन डेल्टा स्ट्रेन अभी भी राज्य में संक्रमणों की अधिकतम संख्या के लिए जिम्मेदार है। उन्होंने दावा किया कि विश्लेषण किए गए 4,200 से अधिक नमूनों में से 68 प्रतिशत नमूनों में डेल्टा वैरिएंट पाया गया, जबकि शेष 32 प्रतिशत रोगी ओमिक्रॉन स्ट्रेन से संक्रमित पाए गए।

उन्होंने कहा, "पिछले साल 1 नवंबर से, 4,265 COVID-19 रोगियों के नमूने जीनोम अनुक्रमण के लिए भेजे गए थे। 4,201 मामलों के परिणाम जारी किए गए हैं, जो दर्शाता है कि 1,367 मामलों में या 32 प्रतिशत में ओमिक्रॉन वैरिएंट का पता चला था, जबकि शेष 68 प्रतिशत मामलों में डेल्टा संस्करण पाया गया।"