CORONA BREAKING NEWS : Coronavirus से भारत में एक दिन में 488 लोगों की मौत

भारत और पाकिस्तान सहित छह देशों के प्रवासियों पर यात्रा प्रतिबंध हटाएगा, जिन्‍हें COVID-19 महामारी के प्रसार को रोकने के लिए लगाया गया था. अरब न्यूज ने बताया कि इन निर्देशों के तहत पूरी तरह से टीकाकरण वाले प्रवासियों को सीधे प्रवेश की अनुमति दी जाएगी. साथ ही उन्‍हें देश में प्रवेश करने से पूर्व अपने देशों के बाहर 14 दिन क्‍वारंटीन में बिताने की आवश्यकता नहीं है.
 
CORONA BREAKING NEWS : Coronavirus से भारत में एक दिन में 488 लोगों की मौत

नई दिल्ली: देश में पिछले 24 घंटे में कोरोना (Coronavirus) के 10,549 नए केस सामने आए और 488 लोगों की मौत हुई. कोरोना के अब तक कुल मामलों की संख्या 34,555, 431 हो चुकी है. वहीं सक्रिय मामलों की संख्या 110,133 है. पिछले 24 घंटे में कोरोना से 9,868 लोग ठीक हुए. अब तक कुल 33,977,830 लोग कोरोना से ठीक हो चुके हैं. अब तक कुल 467, 468 लोगों की मौत हो चुकी है. पिछले 24 घंटे में 83,88,824 लोगों का वैक्सीनेशन हुआ. अब तक कुल 1,20,27,03,659 वैक्सीनेशन हो चुका है.

सऊदी अरब ने घोषणा की है कि वह भारत और पाकिस्तान सहित छह देशों के प्रवासियों पर यात्रा प्रतिबंध हटाएगा, जिन्‍हें COVID-19 महामारी के प्रसार को रोकने के लिए लगाया गया था. अरब न्यूज ने बताया कि इन निर्देशों के तहत पूरी तरह से टीकाकरण वाले प्रवासियों को सीधे प्रवेश की अनुमति दी जाएगी. साथ ही उन्‍हें देश में प्रवेश करने से पूर्व अपने देशों के बाहर 14 दिन क्‍वारंटीन में बिताने की आवश्यकता नहीं है. सऊदी अरब के आंतरिक मंत्रालय ने निर्देश जारी करते हुए कहा कि बदलाव एक दिसंबर को मध्‍य रात्रि एक बजे से लागू होंगे. सऊदी अरब इंडोनेशिया, पाकिस्तान, ब्राजील, वियतनाम, मिस्र और भारत के यात्रियों को सीधे प्रवेश की अनुमति देगा. हालांकि इन देशों से आने वाले लोगों को सरकारी खर्च पर पांच दिनों के लिए सऊदी अरब में ही क्‍वारंटाइन रहना होगा.

दुनिया के कुछ देशों में कोरोना वायरस का नया स्‍वरूप सामने आया है जिसे देखते हुए स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय ने सभी राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को सतर्क रहने की हिदायत दी है. विदेश में कोरोना के नए वेरिएंट B.1.1529 के मिलने के बाद मंत्रालय ने यह कदम उठाया है. इस वेरिएंट के मामले बोस्तवाना, दक्ष‍िण अफ्रीका और हांगकांग से रिपोर्ट हुए हैं. मंत्रालय ने कहा है कि विदेशों से आने वाले लोगों की टेस्टिंग सघन तरीके से की जाए और अगर उनमें से कोई ट्रैवलर पॉजिटिव निकल रहा हो तो उसका सैंपल INSACOG जीनोम सीक्वेंसिंग लेबोरेटरी को भेजा जाए. दक्षिण अफ्रीका में वैज्ञानिकों ने हाल ही में कोरोना वायरस के इस वेरिएंट के बारे में पता लगाया है. कोरोना के इस वेरिएंट को गंभीर चिंता का कारण बताया गया है. इस कोविड वेरिएंट को B.1.1529 कहा जा रहा है. इस वेरिएंट के बारे में बताया गया है कि इसमें असामान्य रूप से बड़ी संख्या में म्यूटेशन होता है. यह पिछले सभी कोविड वैरिएंट से "स्पष्ट रूप से बहुत अलग" है.