घाटे में चलने वाली 30 फीसद ट्रेनेें होंगी बंद, रेलवे बोर्ड कर रहा समीक्षा

गोरखपुर। दशहरा, दीपावली और छठ पर्व के दौरान फायदे में चल रहीं पूजा स्पेशल ट्रेनें ही दिसंबर में चलेंगी। घाटे में चलने वाली ट्रेनों का संचालन बंद किया जा सकता है। इसके लिए रेलवे बोर्ड भारतीय स्तर पर ट्रेनों की आय-व्यय की समीक्षा कर रहा है। अगले सप्ताह पूजा स्पेशल ट्रेनों को लेकर नया दिशा-निर्देश जारी होने की संभावना बनी हुई है।

स्पेशल ट्रेनों की हो रही रूटवार समीक्षा

दरअसल, त्योहारों में चल रहीं पूजा स्पेशल ट्रेनों को चलाने की घोषणा 30 नवंबर तक ही हुई है। दिसंबर में यह ट्रेनें चलेंगी या नहीं, इसको लेकर रेलवे बोर्ड की तरफ से अभी तक कोई दिशा-निर्देश जारी नहीं हुआ है। फिलहाल, स्पेशल ट्रेनों की रूटवार समीक्षा की जा रही है। हालांकि, त्योहारों के चलते अधिकतर ट्रेनें फुल चल रही हैं। लेकिन कुछ ऐसी भी ट्रेनें हैं जिन्हें कुछ दिनों के लिए ही यात्री मिल रहे हैं। शेष दिनों में खाली ही चल रही हैं। ऐसी करीब 30 फीसद ट्रेनों को बंद करने पर विचार चल रहा है। जिन रूटों पर यात्रियों की संख्या बढ़ी है, उन रूटों पर ट्रेनों की संख्या भी बढ़ाने की चर्चा है।

कम आय वाली पैसेंजर ट्रेनों को एक्‍सप्रेस में बदला जाएगा

जानकारों कहना है कि रेलवे बोर्ड की मंशा साफ है। वह कोरोना काल में घाटे में चलने वाली ट्रेनों को कत्तई नहीं चलाएगा। पहले ही कम आय वाली पैसेंजर ट्रेनों (सवारी गाड़ी) को बंद करने या एक्सप्रेस के रूप में चलाने का निर्देश जारी कर दिया है। पूर्वोत्तर रेलवे की तीन पैसेंजर ट्रेनें एक्सप्रेस के रूप में चलाई जाएंगी। रेलवे प्रशासन ने अपनी तैयारी भी शुरू कर दी है। नई समय सारिणी में 55007-55008 गोरखपुर-पाटलिपुत्र, 55031-55050 नकहा जंगल- लखनऊ जंक्शन और 55119-55150 गोरखपुर-वाराणसी पैसेंजर ट्रेनें एक्सप्रेस के रूप में शामिल हो जाएंगी।

15 दिसंबर के बाद नहीं मिल रहे यात्री

नवंबर में त्योहारों के चलते अधिकतर स्पेशल ट्रेनों में जगह नहीं मिल रही। लेकिन पूजा स्पेशल के अलावा जो सामान्य स्पेशल त्योहारों के बाद दिसंबर में यात्री नहीं मिल रहे। हालांकि लग्न के चलते कुछ ट्रेनें फुल हैं, लेकिन 15 दिसंबर के बाद उनमें भी यात्री नहीं मिल रहे। गोरखपुर से आनंदविहार के बीच चलने वाली 02571 हमसफर एक्सप्रेस में 16 दिसंबर को 403 बर्थ, 18 दिसंबर को 821 बर्थ तथा 19 दिसंबर को 836 बर्थ खाली है। अन्य ट्रेनों में भी भीड़ नहीं है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.