सोनिया और राहुल अगस्ता वेस्टलैंड घोटाले में करीबियों के नाम सामने आने पर जवाब दें: बीजेपी

नई दिल्ली। बीजेपी ने लगातार दूसरे दिन बुधवार को अगस्ता-वेस्टलैंड हेलीकाप्टर खरीद घोटाले को लेकर कांग्रेस पर निशाना साधा। बीजेपी ने बुधवार को कहा कि क्या कारण है कि रक्षा समझौतों में कांग्रेस ने हमेशा घोटाले किये हैं? क्या कारण है कि राहुल गांधी अभी तक चुप हैं? इससे पूर्व मंगलवार को केंद्रीय मंत्री रवि शंकर प्रसाद ने भी इस मसले पर कांग्रेस पर हमला बोला था। बीजेपी के राष्ट्रीय प्रवक्ता राज्यवर्धन सिंह राठौर ने कहा कि, “8 फरवरी, 2010 को अगस्ता वेस्टलैंड के साथ उस समय की यूपीए सरकार द्वारा एक समझौता किया गया कि 12 हेलीकॉप्टर खरीदे जाएंगे। जिनकी लागत होगी तकरीबन 600 मिलियन यूरो। इनकी डिलीवरी जुलाई 2013 में होनी थी। लेकिन फरवरी 2012 में इटली में इस पर एक तहकीकात शुरू हुई कि इसकी जो पैरेंट कंपनी है, वो गलत तरीके से काम कर रही है। 2014 में क्रिश्चियन मिशेल के नोट्स से बहुत सारी जानकारी मिलती है।”

“मिशेल ने अपने नोट्स में लिखा कि सोनिया गांधी और उनके करीबियों को टारगेट करने से हमारी ये डील स्वीकृत होगी। उन करीबियों की लिस्ट में अहमद पटेल सहित कई वरिष्ठ कांग्रेस नेताओं के नाम लिखे हैं।”

बीजेपी प्रवक्ता ने कहा कि कांग्रेस पार्टी के वरिष्ठ लोग यानि सोनिया गांधी, राहुल गांधी को इस घोटाले में अपनी पार्टी के बड़े नेताओं का नाम आने पर स्पष्टीकरण और, जवाब देना चाहिए।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.