विकास अब केवल राजनीति का आधार है; महिला भाजपा के मूक मतदाता: पीएम मोदी

नयी दिल्ली । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि बिहार विधानसभा चुनाव और विभिन्न राज्यों के उपचुनावों के परिणामों ने साबित कर दिया है कि 21वीं सदी में ‘‘विकास’’ ही राजनीति का आधार होगा। साथ ही उन्होंने भाजपा को लगातार मिल रही जीत का श्रेय नारी शक्ति को दिया और उन्हें भाजपा के ‘‘साइलेंट’’ मतदाताओं का सबसे बड़ा समूह बताया। प्रधानमंत्री ने परिवारवादी पार्टियों को लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा बताते हुए बिहार में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) की सफलता को ‘‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’’ के मंत्र की जीत करार दिया। मोदी बिहार विधानसभा चुनाव और देश के विभिन्न राज्यों के उपचुनावों में भाजपा को मिली विजय के उपलक्ष्य में भाजपा मुख्यालय में आयोजित धन्यवाद कार्यक्रम को संबोधित कर रहे थे। इस अवसर पर उन्होंने पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस पर भी जोरदार हमला बोला और कहा कि जो लोग लोकतांत्रिक तरीकों से मुकाबला नहीं कर पा रहे है, उन्होंने भाजपा के कार्यकर्ताओं की ‘‘हत्या’’ करने का रास्ता अपनाया है। मोदी ने अपने संबोधन में एक बार फिर सार्वजनिक मंच से स्पष्ट किया कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ही बिहार में राजग का नेतृत्व करेंगे, भले ही उनकी पार्टी जनता दल यूनाइटेड का प्रदर्शन भाजपा के मुकाबले अच्छा न रहा हो। बिहार को अपने लिए सबसे खास बताते हुए मोदी ने कहा, ‘‘आप आज बिहार के चुनाव नतीजों के बारे में पूछेंगे तो मेरा जवाब भी जनता के जनादेश की तरह स्पष्ट और साफ सुथरा है। चुनाव जीतने का एक ही रहस्य है। ‘सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास’ के मंत्र की जीत हुई है बिहार में।’’

बिहार की जीत को विकास कार्यों की भी जीत बताते हुए मोदी ने कहा कि राज्य की जनता ने एक बार फिर साफ कर दिया कि उसे क्यों लोकतंत्र की ज़मीन कहा जाता है। उन्होंने कहा, ‘‘आपने फिर सिद्ध किया है कि वाकई, बिहारवासी पारखी भी हैं और जागरूक भी।’’ प्रधानमंत्री मोदी ने कहा, ‘‘आत्मनिर्भर बिहार के संकल्प के लिए बिहार ने जो अपार प्यार दिया है, उससे मैं और हमारी पूरी टीम अभिभूत है। हम सभी भाजपा के कार्यकर्ता नीतीश जी के नेतृत्व में हर बिहारवासी के साथ इस संकल्प को सिद्ध करने में कोई कसर बाकी नहीं रखेंगे।’’ उन्होंने साथ ही यह भी कहा कि बिहार में तीन बार सरकार में रहने के बाद भाजपा ही एकमात्र पार्टी है, जिसकी सीटों में बढ़ोतरी हुई। उल्लेखनीय है कि बिहार में पहली बार भाजपा जदयू से अधिक सीटें जीतने में सफल रही है। भाजपा को जहां 74 सीटें मिलीं, वहीं जदयू 43 सीटों पर सिमटकर रह गई। मोदी ने देश की नारी शक्ति को भाजपा के ‘‘साइलेंट वोटरों’’ का सबसे बड़ा समूह बताया और कहा कि उनकी गूंज चुनावी नतीजों में भी सुनाई देने लगी है। उन्होंने कहा कि भाजपा शासन काल में महिला केंद्रित योजनाओं के माध्यम से उनका सम्मान और उनकी सुरक्षा सुनिश्चित करने की वजह से ऐसा हुआ है। मोदी ने कहा ‘‘अब साइलेंट वोटरों की गूंज सुनाई देने लगी है। भाजपा के पास साइलेंट वोटरों का एक ऐसा वर्ग है जो उसे बार-बार वोट दे रहा है। निरंतर वोट दे रहा है। और ये साइलेंट वोटर हैं देश की माताएं, बहनें, महिलाएं और देश की नारी शक्ति।’’ उन्होंने कहा कि ग्रामीण इलाकों से लेकर शहरी इलाकों तक महिला मतदाता ही भाजपा का सबसे बड़ा ‘‘साइलेंट वोटरों’’ का समूह बन गया है। मोदी ने कहा, ‘‘ऐसा इसलिए है, क्योंकि भाजपा के शासन में महिलाओं को सम्मान भी मिलता है और सुरक्षा भी मिलती है।’’ उन्होंने कहा कि बैंकों में खाता खोलने से लेकर ऋण लेने तक, गर्भावस्था के दौरान मुफ्त जांच से लेकर छह महीने के अवकाश तक, रसोई को धुएं से मुक्त करने से लेकर शौचालयों के निर्माण तक, एक रुपये में सेनेटरी पैड की सुविधा हो या हर घर बिजली पहुंचाना हो या फिर घर-घर जल के लिए नल अभियान, भाजपा ही है जो भारत की महिलाओं के जीवन स्तर को सुधारने के लिए उम्र के हर पड़ाव को देखते हुए विशेष प्रयास कर रही है।

मोदी ने कहा, ‘‘इसलिए भाजपा पर ये साइलेंट वोटर्स अपना स्नेह दिखाते हैं और अपना आशीर्वाद देते हैं।’’ प्रधानमंत्री ने कहा कि भाजपा ही देश की एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है जिसमें गरीब, दलित, पीड़ित, शोषित और वंचित अपना प्रतिनिधित्व देखते हैं और अपना भविष्य भी देखते हैं। उन्होंने कहा कि आज भाजपा ही देश की एकमात्र राष्ट्रीय पार्टी है जो समाज के हर वर्ग की आवश्यकता और हर क्षेत्र की आवश्यकताओं को समझती है तथा उनके लिए काम कर रही है। मोदी ने कहा, ‘‘आज भाजपा ही एकमात्र पार्टी है जो राष्ट्रीय आकांक्षाओं के साथ ही हर क्षेत्र के गौरव को भी उतने ही गर्व के साथ अपने साथ लेकर चलती है। इसलिए देश के नौजवानों को सबसे ज्यादा भरोसा किसी पर है तो भाजपा पर है।’’ उन्होंने कहा कि महिलाओं के सशक्तीकरण और उनकी गरिमा को सुनिश्चित करने के लिए भी देश की जनता को भाजपा पर ही भरोसा है। जनता के भरोसे को अपने लिए सबसे बड़ी पूंजी बताते हुए मोदी ने कहा कि यही वजह है कि भाजपा को चुनाव दर चुनाव सफलता मिल रही है। उन्होंने कहा, ‘‘देश के लोग भाजपा को ही बार-बार मौका दे रहे हैं और भाजपा पर ही सबसे ज्यादा विश्वास कर रहे हैं। भाजपा की इस सफलता के पीछे उसका सुशासन का मॉडल है। भाजपा सरकारों की पहचान ही सुशासन है।’’ कोरोना महामारी का उल्लेख करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि जनता कर्फ्यू से लेकर अभी तक जिस तरह देश ने इस महामारी का मुकाबला किया, चुनाव नतीजों ने उसे भी अपना समर्थन दिया है। उन्होंने कहा, ‘‘कोरोना काल में गरीब को राशन से लेकर रोजगार तक भारत में जो प्रयास हुए, यह उसका समर्थन है। कोरोना काल में बचाया गया एक-एक जीवन भारत की सफलता की कहानी है।’’ प्रधानमंत्री ने अपने संबोधन के दौरान कांग्रेस और पश्चिम बंगाल की ममता बनर्जी सरकार पर भी हमला बोला। हालांकि इस दौरान उन्होंने किसी का नाम नहीं लिया। उन्होंने कहा, ‘‘कश्मीर से कन्याकुमारी तक परिवारवादी पार्टियों का जाल लोकतंत्र के लिए खतरा बनता जा रहा है। दुर्भाग्य से एक राष्ट्रीय पार्टी भी एक परिवार के चंगुल में फंस गई है। यह देश का युवा भली-भांति जानता है। परिवारों की पार्टियां या परिवारवादी पार्टियां, लोकतंत्र के लिए सबसे बड़ा खतरा हैं।’’ उन्होंने कहा कि ऐसे में भारतीय जनता पार्टी का दायित्व और बढ़ जाता है कि वह अपने दल में लोकतंत्र को मजबूत बनाए रखे।

मोदी ने कहा, ‘‘हमें अपनी पार्टी को जीवंत लोकतंत्र का जीता-जागता उदाहरण बनाना है। पार्टी हर कार्यकर्ता और हर नागरिक के लिए अवसरों का एक बेहतरीन मंच बने।’’ उन्होंने कहा, ‘‘जो लोग ये नहीं समझ रहे, इस बार भी उनकी जगह-जगह जमानत जब्त हो गयी है। ये बिहार की आकांक्षाओं की जीत है, बिहार के गौरव की जीत है।’’ बिहार के साथ ही विभिन्न उपचुनावों में भाजपा का परचम लहराने का उल्लेख करते हुए और चुनावों में भाजपा को लगातार मिल रही सफलता की ओर इशारा करते हुए प्रधानमंत्री ने कहा कि 21वीं सदी के भारत के नागरिक, बार-बार अपना संदेश स्पष्ट कर रहे हैं कि अब सेवा का मौका उसी को मिलेगा, जो देश के विकास के लक्ष्य के साथ ईमानदारी से काम करेगा। उन्होंने कहा, ‘‘हर राजनीतिक दल से देश के लोगों की यही अपेक्षा है कि देश के लिए काम करो, देश के काम से मतलब रखो।’’ पश्चिम बंगाल की सत्ताधारी तृणमूल कांग्रेस पर हमला बोलते हुए मोदी ने कहा कि देश के कुछ हिस्सों में भाजपा के कार्यकर्ताओं को मौत के घाट उतारा जा रहा है और उन्हें लगता है कि ऐसा करके वे अपने मंसूबे पूरे कर लेंगे। उन्होंने कहा, ‘‘जो लोग लोकतांत्रिक तरीकों से मुकाबला नहीं कर पा रहे हैं, चुनौती नहीं दे पा रहे हैं, ऐसे कुछ लोगों ने भाजपा के कार्यकर्ताओं की हत्या करने का रास्ता अपनाया है। मैं उन सभी को आग्रहपूर्वक समझाने का प्रयास करता हूं। मुझे चेतावनी देने की जरूरत नहीं है, वो काम जनता-जर्नादन करेगी।’’ मोदी ने कहा, ‘‘चुनाव आते हैं, जाते हैं। जय-पराजय का खेल होता रहा है। कभी ये बैठैगा, कभी वो बैठेगा…लेकिन ये मौत का खेल लोकतंत्र में कभी नहीं चल सकता है।’’ ‘‘भारत माता की जय’’ के नारे के साथ अपने संबोधन की शुरुआत करते हुए मोदी ने कोरोना संक्रमण काल में भारी संख्या में मतदान के लिए और शांतिपूर्ण चुनाव संपन्न कराने के लिए निर्वाचन आयोग का आभार जताया। मोदी ने देश के युवाओं का आह्वान किया कि वे आगे आएं और भाजपा के माध्यम से देश की सेवा में जुट जाएं। उन्होंने कहा, ‘‘अपने सपनों को साकार करने के लिए, अपने संकल्पों को सिद्ध करने के लिए, कमल को हाथ में लेकर चल पड़ें।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.