अयोध्या में दीपोत्सव के पहले सुरक्षा कड़ी की गई

अयोध्या । अयोध्या में बाहरी लोगों के प्रवेश पर बुधवार से चार दिनों के लिए प्रतिबंध लगा दिया गया है। यह दीपोत्सव कार्यक्रम से पहले सुरक्षा के लिए शहर में उठाए गए कई सुरक्षा उपायों में से एक है।

दीपोत्सव कार्यक्रम 13 नवंबर को ‘छोटी दिवाली’ पर आयोजित किया जाएगा।

दीपोत्सव में राज्यपाल आनंदीबेन पटेल और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ शामिल होंगे।

एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी के मुताबिक, ड्रोन कैमरों से पवित्र शहर के लोगों की गतिविधियों पर नजर रखी जाएगी।

अयोध्या के डीआईजी दीपक कुमार ने पत्रकारों से कहा, “हम बुधवार से किसी भी बाहरी व्यक्ति को अयोध्या में प्रवेश करने की अनुमति नहीं देंगे। हम ड्रोन कैमरों की मदद से अयोध्या में चौबीसों घंटे निगरानी रख रहे हैं। शहर के सभी प्रवेश स्थलों और सरयू नदी मार्ग पर कड़ी सुरक्षा है।”

डीआईजी ने कहा कि बिना सुरक्षा पास के दीपोत्सव के लिए किसी को भी कार्यक्रम स्थल में प्रवेश करने की अनुमति नहीं दी जाएगी।

व्यवस्थाओं को मजबूत करने के लिए दैनिक सुरक्षा अभ्यास किए जा रहे हैं।

संदिग्ध तत्वों की मौजूदगी को जांचने के लिए सभी होटल, गेस्ट हाउस, ‘धर्मशाला’ और वाहनों की जांच की जा रही है।

अधिकारियों ने लोगों से अपील की है कि वे घर के अंदर रहें और इस अवसर को वर्चुअल रूप से मनाएं।

अधिकारी ने कहा, “जो कोई भी घर से बाहर कदम रखता है, उसे अपने पास पहचान पत्र जरूर रखना चाहिए।”

मुख्य दीपोत्सव कार्यक्रम 13 नवंबर को दोपहर 3 बजे शुरू होगा। इसे पब्लिक एड्रेस सिस्टम और अयोध्या में 70 एलईडी वैन पर लाइव प्रसारित किया जाएगा। इस कार्यक्रम का प्रसारण दूरदर्शन पर भी होगा।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.