सीएम व गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ ने नवरात्र की नवमी पर किया कन्या पूजन…

गोरखपुर। शारदीय नवरात्र की नवमी के पावन अवसर पर रविवार को उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री व गोरक्षपीठाधीश्वर योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर में विधि-विधान से कन्या-पूजन का पुनीत कार्य किया। इस दौरान उन्होंने नौ दुर्गा की प्रतीक नौ कन्याओं को भोजन कराया। गोरखनाथ मंदिर में यह परंपरा सदियों से चली आ रही है। सीएम योगी ने इस दौरान यह संदेश भी दिया प्रदेश में महिलाओं और बेटियों का सम्मान इसी प्रकार होता रहेगा।

नवरात्र की नवमी तिथि पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गोरखनाथ मंदिर स्थित अपने आवास पूरे विधि-विधान से नवमी पूजन किया। इस अवसर उन्होंने परंपरागत रूप से नौ कन्याओं और एक बटुक भैरव की वैदिक मंत्रोच्चार के बीच पूजा की और अपने हाथ से भोजन कराया। कन्या पूजन के लिए पहले 12 बजे का समय निर्धारित था लेकिन दोपहर 11ः45 बजे तक ही नवमी तिथि होने की वजह से यह पूजा नौ बजे तक ही सम्पन्न कर ली गई। इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि भारत की सनातन संस्कृति में मातृ शक्ति की आस्था रही है। इसी का प्रतीय यह कन्या पूजन है।

कन्या पूजन की शुरुआत नौ कुंवारी कन्याओं के पांव पखारने से हुई। सीएम योगी ने सबसे पहले बारी-बारी से मां दुर्गा के नौ स्वरूपों की प्रतीक नौ कन्याओं और फिर एक बटुक भैरव का पांव पखारा। उसके बाद टीका लगाकर चुनरी ओढ़ाई और आरती उतारी। पूजा-अर्चना के बाद कन्या भोज का कार्यक्रम शुरू हुआ। मुख्यमंत्री एक-एक कर सभी नौ कन्याओं और बटुक भैरव के पास गए और उनकी थाली में अपने हाथ से भोजन परोसा। इसी क्रम में उन्होंने पूजन कक्ष में मौजूद अन्य कन्याओं को भी पूरी श्रद्धा के साथ भोजन कराया। योगी आदित्यानाथ ने सभी कन्याओं को अपने हाथ से दक्षिणा और उपहार देकर सम्मानपूर्वक विदाई भी की।

मां सिद्धिदात्री की हुई आराधना : कन्या पूजन से पहले ब्रह्म मुहूर्त में सुबह चार बजे मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ योगी ने श्रीदुर्गा सप्तशती के पाठ और आरती के साथ मंदिर में देवी के नौवें स्वरूप मां सिद्धिदात्री की आराधना की।

मनाए त्योहार पर जोश में न खोएं होश : मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रदेशवासियों को शारदीय नवरात्र एवं विजयादशमी की शुभकामनाएं दी है। रविवार को गोरखनाथ मंदिर में कन्या पूजना के बाद अपने शुभकामना संदेश में मुख्यमंत्री ने कहा कि त्योहार उमंग व उत्साह का अवसर होता है, लेकिन कोरोना संक्रमण की वर्तमान परिस्थितियों में हमें जोश में होश खोने की आवश्यकता नहीं है। उमंगपूर्वक त्योहार मनाएं, साथ ही कोविड-19 प्रोटोकॉल का भी पूरा ख्याल रखें। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में कोरोना के खिलाफ मजबूती से लड़ी जा रही लड़ाई में हमने इस वैश्विक महामारी को काफी हद तक नियंत्रित कर लिया है। त्योहार मनाते समय हमें ‘दो गज दूरी, मास्क है जरूरी’ के नियम का अनिवार्य रूप से पालन करना है।

पीएम मोदी ने देश में रामराज की परिकल्पना को किया साकार : विजयादशमी की बधाई देते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथने कहा कि यह पर्व हमें सत्य की राह पर चलते हुए, न्यायपूर्ण आचरण करने और धर्मपथ पर अडिग रहने के लिए प्रेरित करता है। उन्होंने कहा कि विजयादशमी के ही दिन लंका पर विजय प्राप्त कर प्रभु श्रीराम ने सर्वे भवन्तु सुखिनः, सर्वे सन्तु, निरामयः की कामना वाली रामराज की संस्थापना की थी। उन्होंने कहा कि वर्तमान में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के नेतृत्व में देश मे रामराज की परिकल्पना को साकार किया जा रहा है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.