गैंगस्टर विकास दुबे व अन्य के खिलाफ धोखाधड़ी मामले में एफआईआर दर्ज

कानपुर । गैंग्स्टर विकास दुबे तीन माह पहले पुलिस के साथ हुई मुठभेड़ में मारा गया था, लेकिन अब भी उसके खिलाफ शिकायतें सामने आ रही हैं। अब उसका नाम संपत्ति विवाद में धोखाधड़ी मामले में सामने आ रहा है। कानपुर पुलिस ने दुबे के सहयोगी महेश दीक्षित और उसकी पत्नी विजय लक्ष्मी के खिलाफ भी इस केस में मामला दर्ज किया है। एक बूढ़ी महिला ने कोतवाली पुलिस स्टेशन में तीनों के खिलाफ स्वरूप नगर स्थित उसके घर के दस्तावेज के साथ फर्जीवाड़ा करने के मामले में एफआईआर दर्ज करवाई है।

वहीं महीला ने गैंग्सटर पर उसके पति को गायब करने का आरोप लगाया है, जो 15 साल पहले गायब हो गए थे और अबतक लापता हैं।

कोतवाली पुलिस स्टेशन इंस्पेक्टर संजीव कांत मिश्रा के अनुसार, “शिकायतकर्ता कमला देवी ने कहा कि डेयरी के मालिक महेश और उसकी पत्नी ने उसके स्वरूप नगर स्थित घर को लेकर फर्जी रजिस्ट्री दस्तावेज दिखाए। उन्होंने दावा किया कि उसके(महिला के) पति ने यह घर विकास दुबे और विजय लक्ष्मी को बेच दिया है। दोनों ने महिला को घर खाली करने को कहा।”

मिश्रा ने कहा, “महिला ने रविवार को एक शिकायत दर्ज कराई थी, जिसके बाद आईपीसी की धारा 419, 420, 467, 468 और 471 के तहत रविवार को एक मामला दर्ज किया गया और इस बाबत जांच शुरू की गई है।”

विकास दुबे 10 जुलाई को कथित एनकाउंटर में मारा गया था। उसके पांच सहयोगी भी विभिन्न एनकाउंटर में मारे जा चुके हैं और 37 को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया गया है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.