20 सितम्बर से 12 रूटों पर की जाएगी आरम्भ रात्रि बस सेवा

शिमला। हिमाचल प्रदेश के परिवहन मंत्री बिक्रम सिंह ने शुक्रवार को बताया कि प्रदेश सरकार ने 12 रूटों पर 20 सितम्बर से रात्रि बस सेवा चलाने का निर्णय लिया है। सिंह ने बताया कि पालमपुर-शिमला-पालमपुर वाया मंडी रूट पर बस सायं पालमपुर से 6:45 बजे और शिमला से रात्रि 9 बजे चलेगी। पालमपुर-भरमौर-कुगति वाया टांडा कांगड़ा रूट पर बस पालमपुर से दोपहर बाद 3:40 बजे चलेगी और कुगति से सायं 4:45 बजे चलेगी।

इसी तरह नयाग्राम-होली-चंबा-फटाहार वाया जोत-चैवाड़ी रूट पर बस नयाग्राम से सायं 3:15 बजे चलेगी और फटाहार से सायं 4 बजे चलेगी।

उन्होंने बताया कि बद्दी-जोगिन्द्रनगर वाया स्वारघाट बिलासपुर रूट पर बद्दी से बस सायं 9:30 बजे चलेगी और जोगिन्द्रनगर से सायं 6:30 बजे चलेगी।

बद्दी से चंबा वाया नालागढ़-स्वारघाट-भाखड़ा-ऊना-मुबारकपुर-भरवाईं-चिंतपुर्णी-टैरेस-जसूर-नूरपुर-बनिखेत रूट पर बद्दी से बस रात्रि 9 बजे और चंबा से भी रात्रि 9 बजे चलेगी। त्रिलोकनाथ-धर्मशाला वाया केलांग-मनाली-मंडी-जोगिंद्रनगर-कांगड़ा रूट पर बस त्रिलोकनाथ से प्रात: 7:15 बजे और धर्मशाला से सायं 6 बजे चलेगी। जाहलमा-रिकांगपिओ वाया मनाली-मंडी-सुंदरनगर-करसोग-रामपुर रूट पर बस जाहलमा प्रात: 4:30 बजे चलेगी और रिकांगपिओ से सायं 5 बजे चलेगी।

इसके अलावा रिकांगपिओ-शिमला-हमीरपुर रूट पर बस सायं 4:30 बजे रिकांगपिओ से चलेगी और हमीरपुर से दोपहर बाद 12:30 बजे चलेगी। झाकड़ी-हमीरपुर रूट पर बस झाकड़ी से प्रात: 5:25 बजे चलेगी और हमीरपुर से सायं 5:10 बजे चलेगी। रामपुर-चिंतपुर्णी रूट पर बस रामपुर से दोपहर बाद 3:45 बजे चलेगी और चिंतपुर्णी से भी 3:45 बजे चलेगी।

सिंह ने कहा कि शिमला-जसूर वाया बिलासपुर-हमीरपुर-ज्वालाजी-देहरा-टैरेस रूट पर बस सायं 7:20 बजे शिमला से चलेगी और जसूर से सायं 5:40 बजे चलेगी। केलॉग से शिमला रूट पर केलॉग से बस दोपहर 12:30 बजे और शिमला से सायं 7 बजे चलेगी।

बिक्रम सिंह ने बताया कि इन सभी बसों की बुकिंग ऑनलाइन माध्यम से भी उपलब्ध है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.