मुख्यमंत्री अमरिंदर से हरीश रावत ने की मुलाकात, कहा…

नई दिल्ली। कांग्रेस पार्टी के संगठन में हुए फेरबदल के बाद उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री और पार्टी महासचिव हरीश रावत को पंजाब का प्रभार दिया गया है। प्रभार लेने के बाद रावत ने पंजाब के मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह से मुलाकात की। रावत ने बताया कि नवजोत सिंह सिद्धू पार्टी के लिए एक संपत्ति (असेट) हैं। रावत ने बताया कि उन्होंने अमरिंदर सिंह को पार्टी के घोषणापत्र को लागू करने पर बात की। उनसे ये भी कहा कि जो वादे पूरे नहीं किए गए हैं, वो कैसे पूरे होंगे। रावत ने बताया कि उन्होंने पंजाब में कोविड स्थिति के बारे में भी बात की और इसके चलते पैदा हुई चुनौतियों पर भी चर्चा की।

पंजाब में पार्टी के विभिन्न गुटों के बारे में पूछे गए सवाल के बारे में रावत ने बताया कि अमरिंदर सिंह पंजाब में पार्टी के सबसे बड़े नेता हैं। नवजोत सिंह पार्टी की एक संपत्ति (असेट) हैं जिनकी उपयोगिता पंजाब में ही नहीं, बल्कि पूरे देश में है। अगर पार्टी के विभिन्न नेताओं में समन्वय बनाने की बात है तो सभी मिल कर इस बात पर चर्चा करेंगे। बता दें कि मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह और नवजोत सिंह सिद्धू एक-दूसरे के विरोधी हैं।

उन्होंने कहा कि वो राज्य का दौरा करेंगे और पार्टी के विभिन्न नेताओं से बात कर जो भी समस्या है उसे सुलझाएंगे।

मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह को हटाने को लेकर पार्टी में उठ रही मांग पर रावत ने कहा कि ऐसी कोई मांग नहीं है। अगर कुछ नेताओं में मतभेद हैं तो उसे मिल-बैठकर दूर कर लिया जाएगा।

राहुल गांधी को पार्टी अध्यक्ष बनाने को लेकर पूछे गए सवाल पर हरीश रावत ने कहा कि वो तो पहले से ही केंद्र सरकार को घेरने में सबसे आगे हैं। वो पार्टी अध्यक्ष तो नहीं हैं, लेकिन विपक्ष का मुख्य चेहरा हैं।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.