राजनाथ सिंह थोड़ी देर में चीन पर देंगे बयान…

नई दिल्ली। आज संसद के मानसून सत्र का चौथा दिन है। कोरोना के खतरे को देखते हुए संसद में कई व्यवस्थाएं की गई हैं। एलएसी पर चीन के साथ जारी तनाव को लेकर रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह आज राज्यसभा में बयान दे सकते हैं। उधर, संसद में चीर पर चर्चा के लिए कांग्रेस अड़ी हुई है। हालांकि, सरकार संवेदनशीलता को देखते हुए बहस के पक्ष में नहीं है। बुधवार को सर्वदलीय बैठक में सरकार ने सभी दलों को साफ संकेत दिया था कि सीमा के हालात को देखते हुए सदन में अभी इस पर बहस नहीं कराई जा सकती।

Parliament Monsoon Session Live Updates:

संजय सिंह को सुधांशु त्रिवेदी का जवाब

संजय सिंह की बात का जवाब देते हुए बीजेपी सांसद सुधांशु त्रिवेदी ने कहा- जो लोग कह रहे हैं कि क्या ताली-थाली बजाने से कोरोना खत्म हो जाएगा। मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि क्या चरखा चलाने से आजादी मिली थी? चरखा चलाना एक प्रतीक था। ठीक उसी तरह ताली-थाली बजाना एक प्रतीक था जिसके जरिए कोरोना से जंग में जुटे लोगों का मनोबल बढ़ाने की कोशिश की गई।

संजय सिंह का सरकार पर निशाना

आम आदमी पार्टी के सांसद संजय सिंह ने कहा कि सत्ता पक्ष के लोग कह रहे हैं कि विपक्ष ने ताली-थाली बजाने में सरकार का सहयोग नहीं किया। मैं कहना चाहता हूं कि एक भी ऐसी रिसर्च बता दीजिए जिसमें ताली-थाली बजाने से कोरोना ठीक हुआ हो, तो मैं प्रधानमंत्री के साथ ताली-थाली बजाने के लिए तैयार हूं।

संजय राउत का केंद्र पर निशाना

शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि देश की आर्थिक हालत बहुत गंभीर है, अब स्थिति ऐसी है कि हमारी GDP और हमारा RBI भी कंगाल हो चुका है, ऐसे में एयर इंडिया, रेलवे, LIC और काफी कुछ बाज़ार में बेचने के लिए लाया गया है बहुत बड़ी सेल लगी है अब इस सेल में जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट को भी खड़ा कर दिया गया है। सरकार जवाहरलाल नेहरू पोर्ट ट्रस्ट को निजी हाथों में देने के बारे में सोच रहा है। जेएनपीटी विश्व में सबसे बड़ा पोर्ट है जो भारत सरकार को 30 फीसद से ज्यादा मुनाफा कमा कर देता है ऐसे महत्वपूर्ण पोर्ट को प्राइवेट हाथों में देना देश के राष्ट्रीय संपत्ति का बहुत बड़ा नुकसान है।

क्या वो भाभी जी पापड़ खाकर ठीक हुए: राउत

कोरोना वायरस पर चर्चा के दौरान राज्यसभा सांसद संजय राउत ने कहा कि मैं सदन के सदस्यों से पूछना चाहता हूं कि कोरोना से अब तक जो लोग ठीक हुए हैं क्या वो भाभी जी पापड़ खाकर ठीक हुए हैं। ये राजनीतिक लड़ाई नहीं है, ये लोगों की जिंदगी बचाने की लड़ाई है। मेरी मां और मेरा भाई कोविड-19 से संक्रमित हैं। महाराष्ट्र में भी काफी लोग ठीक हो रहे हैं। धारावी में स्थिति नियंत्रण में है। WHO ने BMC के प्रयासों की सराहना की है। मैं इन तथ्यों को इसलिए बताना चाहता हूं क्योंकि यहां कुछ सदस्य कल महाराष्ट्र सरकार की आलोचना कर रहे थे।

भरोसे में लेने की रणनीति

सरकार की ओर से रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने सभी दलों को भरोसे में लेने की रणनीति के तहत बुधवार को सर्वदलीय बैठक बुलाई। सरकार ने सभी दलों के नेताओं को साफ संकेत दे दिया कि सीमा के हालात को देखते हुए सदन में अभी इस पर बहस नहीं कराई जा सकती।

 

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.