विफल हुआ नीट परीक्षा को स्थगित करने का एक और प्रयास, सुप्रीम कोर्ट में खारिज की याचिका

नई दिल्ली। देश भर में 13 सितंबर को आयोजित होने वाली वाली मेडिकल प्रवेश परीक्षा नीट 2020 के कोविड-19 महामारी के बीच आयोजन को स्थगित करने के लिए दायर नई याचिका को आज, 9 सितंबर 2020 को सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान खारिज कर दिया गया है। इस प्रकार नीट परीक्षा का आयोजन पूर्व निर्धारित समय पर ही होगा।

आज होनी थी सुनवाई

देशभर में इंजीनियरिंग की प्रवेश परीक्षा जेईई मेन का संचालन हो चुका है। वहीं अब 13 सितंबर को नीट यूजी की प्रवेश परीक्षा होनी है। परीक्षा में महज तीन दिन रह गए हैं। लेकिन अब भी इस परीक्षा को स्थगित करने के लिए प्रयास जारी है। अब इस मामले में एक सुप्रीम कोर्ट के वरिष्ठ अलख आलोक श्रीवास्तव ने ताजा दलील पेश की गयी। यह याचिका न केवल परीक्षा को स्थगित करने के लिए बल्कि परीक्षा के लिए और ज्यादा सेंटर उपलब्ध कराने के लिए भी की गयी थी। सुप्रीम कोर्ट में आज यानी कि 9 सितंबर को सुनवाई हुई। इस संबंध में वरिष्ठ वकील ने ट्विट करके जानकारी दी थी। उन्होंने ट्विटर पर लिखा, ‘ #NEET फ्रेंडस,आज शाम मैंने सीनियर वकील के साथ विस्तृत चर्चा की, जो कल हमारे नीट मामले में हमारे लिए पेश होंगे।हम नीट यूजी प्रवेश परीक्षा स्थगित करने, परीक्षा केंद्र बढ़ाने की मांग कर रहे हैं। हम दोनों निशुल्क काम कर रहे हैं। हम अपनी तरफ से पूरा प्रयास करेंगे। आप पढ़ाई करते रहिए।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक NTA द्वारा JEE मेन 2020 परीक्षा के सफल आयोजन के बाद कई छात्रों और विशेषज्ञों ने JEE की NEET परीक्षा के साथ तुलना करने पर सवाल उठाए है। छात्रों और एक्सपर्ट का मानना है कि जेईई मेन परीक्षा के लिए 7 दिनों में 9 लाख छात्रों ने परीक्षा दी थी। वहीं 13 सितंबर को NEET 2020 परीक्षा के लिए 15.67 लाख छात्रों को उपस्थित होना आवश्यक है। ऐसे में कई परीक्षा केंद्र हैं, जिनमें 600 से अधिक छात्र होंगे। ऐसे में स्टूडेंट्स के बीच सोशल डिस्टेसिंग कैसे फॉलो हो पाएगी। गौरतलब है कि कोविड-19 महामारी की वजह से नेशनल एलिजिबिलिटी कम एंट्रेंस टेस्ट (नीट) 2020 दो बार स्थगित हो चुकी है। अब फाइनली 13 सितंबर को परीक्षा होने जा रही है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.