8 देशों के 10 टॉप संस्थानों के साथ जिंदल ग्लोबल लॉ स्कूल ने एमओयू पर साइन किया

नई दिल्ली। ओ.पी. जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी (जेजीयू) के जिंदल ग्लोबल लॉ स्कूल (जेजीएलएस) ने दुनिया के विभिन्न हिस्सों के प्रमुख संस्थानों के साथ 10 नए समझौता ज्ञापनों (एमओयू) पर हस्ताक्षर किए हैं। जेजीएलएस ने आठ देशों-आस्ट्रेलिया, बांग्लादेश, कोलंबिया, डोमिनिकन रिपब्लिक, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, नेपाल और अमेरिका के 10 प्रमुख संस्थानों के साथ अंतर्राष्ट्रीय सहयोग स्थापित किया है।

इन अंतर्राष्ट्रीय भागीदारी को लॉ स्कूल के कोविड-19 शैक्षणिक कार्य योजना के हिस्से के रूप में किया गया है। ओ.पी. जिंदल ग्लोबल यूनिवर्सिटी के संस्थापक वाइस चांसलर और जिंदल ग्लोबल लॉ स्कूल के डीन ने सी. राजकुमार ने बताया, “इन साझेदारियों के पीछे की वजह जेजीएलएस के छात्रों को हमारे पार्टनर संस्थानों के साथ अंतर्राष्ट्रीय कानूनी शिक्षा प्रदान करने के लिए बेहतरीन अवसर प्रदान करना है। उन्होंने कहा कि जेजीयू और जेजीएलएस द्वारा लाए गए संस्थागत अवसरों के परिणामस्वरूप हमारे छात्रों के लिए एक्सचेंज प्रोग्राम, इमर्सन प्रोग्राम, डुअल डिग्री प्रोग्राम और विदेश में शॉर्ट-टर्म स्टडी प्रोग्राम होते हैं।

जेजीएलएस के नए पार्टनर संस्थानों की सूची में यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी लॉ स्कूल, यूनिवर्सिटी ऑफ सिडनी, (ऑस्ट्रेलिया), लंदन कॉलेज ऑफ लीगल स्टडीज (साउथ) (यूनिवर्सिटी ऑफ लंदन से संबंद्ध केंद्र), स्कूल ऑफ लॉ (बांग्लादेश), यूनिवर्सिदाद देल रोसेरियो (कोलंबिया), फैकलताद दे सिएनसियास जुरिडिकस वाई पोलितिकास, यूनिवर्सिदादाइबेरोमेरिकाना (यूएनआईबीई), डोमिनिकन रिपब्लिक, स्कूल ऑफ लॉ एंड पब्लिक एडमिनिस्ट्रेशन, नारक्सोज यूनिवर्सिटी, कजाकिस्तान, फैकल्टी ऑफ लॉ एंड सोशल साइंसेज, सुलेमान डेमिरल यूनिवर्सिटी, कजाकिस्तान, डिपार्टमेंट ऑफ यूनिवर्सिटी लॉ, फैकल्टी ऑफ इकनॉमिक्स एंड एडमिनिस्ट्रेटिव साइंसेज, अला-टू इंटरनेशनल यूनिवर्सिटी, किर्गिस्तान, काठमांडू स्कूल ऑफ लॉ (पूर्वांचल यूनिवर्सिटी से संबद्ध), नेपाल, एलिजाबेथ हॉब स्कूल ऑफ लॉ, पेस यूनिवर्सिटी, अमेरिका और बीस्ली स्कूल ऑफ लॉ, टेम्पल यूनिवर्सिटी, अमेरिका हैं।

इन नए सहयोगों में से कई जेजीयू और साझीदार संस्थानों में छात्रों और फैकल्टी सदस्यों के लिए यूनिवर्सिटी के व्यापक अवसर प्रदान करते हैं। जेजीएलएस के एक्जिक्यूटिव डीन श्रीजीत एसजी ने कहा कि हमें खुशी है कि महामारी हमारे छात्रों को इंटनेशनलाइजेशन अवसर से वंचित नहीं करेगी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.