कंगना रनोट का संजय राउत की विवादित टिप्पणी पर पलटवार…

नई दिल्लीl फिल्म एक्ट्रेस कंगना रनोट ने शिवसेना के संजय राउत पर ‘हरामखोर’ कहे जाने के बाद पलटवार किया हैl अपने हालिया वीडियो में कंगना ने कहा कि उन्हें अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता हैl उन्होंने संजय राउत से सवाल किया कि आमिर खान या नसीरुद्दीन शाह के लिए उन्होंने इस शब्दों का प्रयोग क्यों नहीं किया? बॉलीवुड अभिनेत्री कंगना रनोट अपने ट्वीट के बाद विवादों में आ गईं है, इसमें उन्होंने मुंबई की तुलना पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर (पीओके) से की थीं।

कंगना के ट्वीट का संज्ञान शिवसेना नेता संजय राउत ने लिया था और मुंबई पुलिस से इतना डर होने पर उन्हें वापस मुंबई नहीं आने के लिए कहा था। इसके बाद नेटिज़ेंस भी कंगना से नाराज हो गए थे और टिप्पणी के लिए कंगना को ट्रोल किया था। यह मामला संजय राउत के बयान के बाद आगे बढ़ाl हाल ही में एक साक्षात्कार में उन्होंने कंगना को अपनी टिप्पणी के लिए ‘हरामखोर’ कहा था।

अब कंगना ने संजय राउत पर पलटवार किया है और अपने द्वारा शेयर किए गए हालिया वीडियो में कंगना ने कहा कि उन्हें अभिव्यक्ति की स्वतंत्रता है और उन्होंने संजय से सवाल किया कि आमिर खान या नसीरुद्दीन शाह के लिए उन्होंने इस शब्दों का प्रयोग क्यों नहीं किया। कंगना ने संजय राउत को ट्विटर पर शेयर किए वीडियो में कहा, ‘आपने मुझे कहा कि मैं हरामखोर लड़की हूं।’ फिर कंगना ने आगे कहा कि उन्हें पता होना चाहिए कि इस देश में कई लड़कियों के साथ बलात्कार, दुर्व्यवहार किया जाता है और महिलाओं के खिलाफ अत्याचार किया जाता है, वह इसी मानसिकता के कारण होती है। कंगना ने आगे कहा, ‘ऐसी मानसिकता ही है जो इन सभी अत्याचारों के लिए जिम्मेदार है। देश की बेटी आपको माफ़ नहीं करंगी संजय जी। आपने उन सभी महिलाओं का शोषण करने वालों को मजबूत किया है।’

कंगना ने आगे सवाल किया कि जब आमिर खान ने कहा कि वह भारत में रहने से डरते हैं, तो किसी ने उन्हें ‘हरामखोर’ क्यों नहीं कहा। न ही किसी ने नसीरुद्दीन शाह को उनकी टिप्पणी के लिए फोन किया। उन्होंने आगे कहा कि कैसे अतीत में उन्होंने मुंबई पुलिस की प्रशंसा की है लेकिन अगर वे सुशांत के पिता की प्राथमिकी दर्ज नहीं करते हैं या यदि उनके बयान नहीं लिए जा रहे हैं, तो निश्चित रूप से वह उनकी निंदा करेंगी। वीडियो को समाप्त करते हुए कंगना ने कहा, ‘अगर मैं मुंबई पुलिस की आलोचना करती हूं या अगर मैं आपकी आलोचना करती हूं, तो आप यह नहीं कह सकते कि मैं महाराष्ट्र का अपमान कर रही हूं। आप महाराष्ट्र नहीं हैं। आपके लोग मुझे धमकी दे रहे हैं, फिर भी मैं 9 सितंबर को मुंबई आऊंगी।’

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.