ड्रग्स सप्लायर पर NCB ने कसा शिकंजा, पेज-3 अगला लक्ष्य?

मुंबई। नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (एनसीबी) ने नशीले पदार्थों के माफियाओं पर शिकंजा कसना शुरू कर दिया है। एक अधिकारी ने मंगलवार को यहां कहा कि एनसीबी ने मुंबई और दिल्ली में कई स्थानों पर छापीमारी की है। अधिकारी बाहरी देशों से मुंबई और गोवा जैसी जगहों पर आने वाली महंगी ड्रग्स के गिरोह के बारे में छानबीन कर रहे हैं। यह छापेमारी तीन दिन पहले मुंबई में दो ड्रग पेडलर्स की गिरफ्तारी के मद्देनजर हुई है। एनसीबी, केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) और प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ड्रग्स माफिया के बॉलीवुड हस्तियों के साथ कनेक्शन को उजागर करने के लिए प्रयासरत हैं।

गिरफ्तार किए गए दो आरोपियों में गोवा के कैलंगुट से एफ.अहमद शामिल है, जो एक प्रमुख रिसॉर्ट में ड्राइवर के रूप में काम करता है। वहीं, दूसरा आरोपी बेंगलुरु के पेज-थ्री हस्तियों (सेलेब्स) के साथ जुड़ा हुआ है।

एनसीबी के उप निदेशक के.पी.एस. मल्होत्रा ने कहा कि एनसीबी की छापेमारी मुंबई और दिल्ली में की गई, जहां से अमेरिका और कनाडा जैसे देशों से आयातित तस्करी किया हुआ गांजा (करैत मारिजुआना) जब्त किया गया। यह विदेशी गांजा 5,000 रुपये प्रति एक ग्राम की मोटी कीमत पर बेचा जा रहा था।

एक खेप अमेरिका से मंगाई गई थी और इसे मुंबई के लिए भेजे जाने का इरादा था, मगर इसे दिल्ली में जब्त कर लिया गया। वहीं एक कनाड़ा से आई खेप मुंबई में जब्त की गई है, जिसे गोवा पहुंचाया जाना था।

उन्होंने कहा कि ड्रग पेडलर्स के विवरणों के आधार पर, एनसीबी ने 3.50 किलोग्राम की गांजे की कली जब्त की, जिसकी मुंबई में काफी मांग है।

दिलचस्प बात यह है कि पिछले कुछ दिनों में सीबीआई, एनसीबी और ईडी द्वारा पूछताछ किए गए कुछ व्यक्तियों के बारे में यह समझा जाता है कि उन्होंने विभिन्न सेलेब्स और राजनेताओं के साथ प्राइवेट या रेव पार्टियों में कथित तौर पर ड्रग्स का कारोबार किया था।

इस सिलसिले में, महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के सलाहकार किशोर तिवारी ने महाराष्ट्र पुलिस से अभिनेत्री कंगना रनौत के सनसनीखेज दावों का संज्ञान लेने का आह्वान किया है। कंगना ने बॉलीवुड में ड्रग्स के बेइंतहा इस्तेमाल का आरोप लगाया है।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.