GST संग्रह अगस्त में 12 फीसदी घटकर 86,449 करोड़ रहा

नई दिल्ली। बीते महीने अगस्त में वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) संग्रह 86,449 करोड़ रुपये रहा जो पिछले साल के इसी महीने के मुकाबले करीब 12 फीसदी कम है। कोरोना महामारी के प्रकोप के चलते आर्थिक गतिविधियां बीते महीनों के दौरान प्रभावित रहने से सरकार के कर संग्रह पर असर पड़ा है। जीएसटी से प्राप्त राजस्व अगस्त महीने में भी एक लाख करोड़ रुपये के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे रहा। जीएसटी संग्रह हालांकि जून महीने में 90,000 करोड़ के आंकड़े को पार गया था लेकिन उसके बाद यह लगातार दूसरा महीना है जब जीएसटी संग्रह 90,000 करोड़ रुपये से कम रहा है।

पिछले साल के मुकाबले इस साल अगस्त में जीएसटी संग्रह में 11.96 फीसदी की गिरावट रही है। हालांकि कोरोना काल में अप्रैल और मई के मुकाबले जीएसटी संग्रह अधिक हुआ है।

जीएसटी संग्रह में लगातार दूसरे महीने हुई गिरावट के संबंध में वित्त मंत्रालय ने कहा, “अगस्त महीने में जीएसटी राजस्व पिछले साल के इसी महीने के संग्रह का 88 फीसदी है। मालूम हो कि जिन करदाताओं का कारोबार बार पांच करोड़ रुपये से कम है उनको सितंबर तक रिटर्न फाइल करने में छूट दी गई है।”

आधिकारिक बयान के अनुसार, बीते महीने कुल 86,449 करोड़ रुपये जीएसटी संग्रह हुआ जिसमें से सीजीएसटी 15,906 करोड़ रुपये और एसजीएसटी 21,064 करोड़ रुपये है। वहीं, आईजीएसटी संग्रह 42,262 करोड़ रुपये (जिसमें 19,179 करोड़ रुपये आयात से संग्रहित कर शामिल है) रहा और उपकर संग्रह 7,215 करोड़ रुपये (जिसमें 673 करोड़ रुपये आयात से संग्रहित कर शामिल है) हुआ।

सरकार ने नियमित भुगतान के तौर पर आईजीएसटी से 18,216 करोड़ रुपये का भुगतान सीजीएसटी में और 14,650 करोड़ रुपये एसजीएसटी में किया। नियमित भुगतान के बाद अगस्त महीने में केंद्र सरकार को सीजीएसटी के लिए कुल राजस्व 34,122 करोड़ रुपये और राज्य सरकार को एसजीएसटी के लिए 35,714 करोड़ प्राप्त हुआ।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.