7.5 करोड़ लोगों ने देखा राजन, बनर्जी संग राहुल की बातचीत को – रोहन गुप्ता

नई दिल्ली । कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने हाल ही में आरबीआई के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन और नोबेल पुरस्कार विजेता अर्थशास्त्री अभिजीत बनर्जी के साथ कोविड-19 महामारी से लड़ने के लिए विभिन्न उपायों पर विचार-विमर्श किया है। इस पर कांग्रेस का कहना है कि आर्थिक रणनीति पर की गई इन चर्चाओं को 7.5 करोड़ लोगों ने देखा है।

पार्टी की सोशल मीडिया टीम के सूत्रों का कहना है कि कांग्रेस की सोशल मीडिया टीम द्वारा बनाई गई रणनीति कामयाब रही है और लोगों तक पहुंच स्थापित करने के कई तरीके हैं।

एआईसीसी की सोशल मीडिया टीम का नेतृत्व करने वाले रोहन गुप्ता ने कहा, मूल रूप से हमारे पास एक सोशल मीडिया सेटअप है और आंतरिक रूप से हाउस सिस्टम में हम लीडर्स और समर्थक पेज को लाइव कर सकते हैं। यह हमें सभी प्लेटफार्मों तक पहुंचने में मदद कर रहा है।

पार्टी सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर सभी लाइव तत्वों का उपयोग कर रही है। राहुल गांधी वाले कार्यक्रम को फेसबुक, यूट्यूब और ट्विटर पर लाइव स्ट्रीम किया गया, जिसे सभी प्रमुख नेताओं के पेज पर भी स्ट्रीम किया गया।

रोहन गुप्ता ने बताया कि वे किस तरह इतनी बड़ी संख्या में लोगों तक पहुंचने में कामयाब रहे।

उन्होंने बताया, बातचीत को 300 ट्विटर हैंडल, 500 फेसबुक पेज और 100 यूट्यूब चैनलों पर लाइव स्ट्रीम किया गया था।

गुप्ता ने कहा, इसके लिए पार्टी ने सभी राज्यों को लाइव स्ट्रीम करने के लिए एक परिपत्र भेजा था। राज्य के नेताओं ने आगे बढ़कर जिला प्रमुखों को जिम्मेदारी सौंपी थी।

गुप्ता ने कहा, यह देखना सुखद है कि बहुत सारे स्वतंत्र मीडिया प्लेटफॉर्म यू ट्यूब चैनल और एफबी पेज, ट्विटर हैंडल और स्वयंसेवकों ने लाइव जाने के लिए हमारे लिंक का उपयोग किया है।

कांग्रेस ने अपने उन कार्यकर्ताओं की पहचान की है, जो प्रत्येक जिले में सोशल मीडिया पर सक्रिय हैं और पार्टी ने भाजपा का मुकाबला करने के लिए एक टीम लगा रखी है।

रोहन गुप्ता ने कहा, मुझे लगता है कि पार्टी को जिस तरह कामयाबी मिल रही है, लोग मानते हैं कि महामारी पर कांग्रेस सही है और हमारी स्वीकार्यता बढ़ रही है। कांग्रेस वास्तविकता की बात कर रही है, जबकि सरकार केवल बातें ही कर रही है।

उन्होंने दावा किया कि भाजपा द्वारा अधिक फॉलोअर्स का दावा करने के बावजूद कांग्रेस ने सोशल मीडिया पर अपनी पहुंच में भारतीय जनता पार्टी को पीछे छोड़ दिया है।

पार्टी ने कहा कि राजन और बनर्जी के कार्यक्रम खत्म होने के बाद उन्होंने दोनों का स्थानीय भाषाओं में अनुवाद भी किया।

रोहन गुप्ता ने कहा कि पार्टी पूरी तरह से स्वयंसेवकों पर निर्भर है और कोई आउटसोसिर्ंग नहीं की जाती है। कन्नड़ एक्टर राम्या के पद छोड़ने के बाद उन्होंने यह कार्यभार संभाला था।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.