फिर लौटी रौनक भाजपा के राष्ट्रीय मुख्यालय की, राज्यों के कार्यालयों को भी खोलने की तैयारी

नई दिल्ली । भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय मुख्यालय की रौनक फिर से लौट आई है। यहां पिछले चार दिनों से पार्टी के सभी प्रमुख राष्ट्रीय स्तर के पदाधिकारी बैठने लगे हैं। अध्यक्ष जेपी नड्डा से लेकर राष्ट्रीय महासचिव, राष्ट्रीय सचिव और अन्य प्रमुख पदाधिकारी रोजाना आ रहे हैं। पचास प्रतिशत स्टाफ के साथ पार्टी दफ्तर का संचालन शुरू हो गया है। हालांकि लॉकडाउन के कारण पार्टी कार्यकर्ताओं व अन्य मुलाकातियों के आने का सिलसिला नहीं शुरू हुआ है। लॉकडाउन के कारण 24 मार्च से राष्ट्रीय मुख्यालय बंद था। बाहरी लोगों के लिए एहतियातन लॉकडाउन से पहले ही मुख्यालय में प्रवेश बंद कर दिया गया था।

भाजपा के वरिष्ठ नेताओं ने बताया कि राष्ट्रीय मुख्यालय के बाद देश भर के प्रदेश कार्यालयों को भी सीमित स्टाफ के साथ गतिशील करने की तैयारी है। हालांकि कोरोना के कारण चल रहे लॉकडाउन को लेकर संबंधित राज्यों के हालात के हिसाब से प्रदेश संगठन इसका निर्णय करेगा। लॉकडाउन के दौरान ज्यादातर पार्टी नेता अपने आवास से ही पार्टी की गतिविधियों और कोरोना वायरस से बचाव के लिए राहत कार्यो का संचालन करते रहे हैं।

भाजपा के एक वरिष्ठ नेता ने आईएएनएस को बताया कि कई प्रदेश कार्यालयों में अध्यक्ष और प्रदेश संगठन महामंत्री रहते भी हैं। ऐसे में उन प्रदेश कार्यालयों में लॉकडाउन के दौरान से ही कार्यो का संचालन चल रहा है। जबकि जो प्रदेश कार्यालय बंद चल रहे हैं, उन्हें सोशल डिस्टैंसिंग के साथ चलाने की रणनीति बन रही है।

भाजपा के वरिष्ठ नेता ने बताया कि ऑरेंज जोन वाले क्षेत्रों में शर्तो साथ कार, बाइक के संचालन की छूट मिली है। ऐसे में स्टाफ के पार्टी दफ्तर आने में अब समस्या नहीं है। सरकार ने सीमित स्टाफ के साथ कार्यालयों के संचालन की छूट दे रखी है। ऐसे में राज्यों के पदाधिकारी सीमित स्टाफ के साथ प्रदेश कार्यालयों का संचालन करने की तैयारी कर सकते हैं।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.