धारदार हथियार से जन्म के अगले दिन ही बच्ची को किया लहुलूहान, जिंदगी की जंग हार गई मासूम

मध्य प्रदेश के इंदौर में एक दर्दनाक मामला सामने आया है। दिल दहला देने वाली वारदात में अज्ञात आरोपी के धारदार हथियार के कई वारों की शिकार तीन दिन की बच्ची ने इंदौर के एक अस्पताल में दम तोड़ दिया। शासकीय महाराजा यशवंतराव चिकित्सालय (एमवायएच) के बाल शल्य चिकित्सा विभाग के प्रमुख ब्रजेश लाहोटी ने शुक्रवार को बताया, ‘नवजात बच्ची की गर्दन, सीने और पेट पर किसी धारदार चीज से कई वार किये गए थे। हमने अस्पताल में उसकी सर्जरी भी की थी। लेकिन तमाम कोशिशों के बावजूद हम उसकी जान नहीं बचा सके।’

लाहोटी ने बताया कि बुरी तरह घायल बच्ची ने एमवाईएच की गहन चिकित्सा इकाई (आईसीयू) में इलाज के दौरान बृहस्पतिवार देर रात दम तोड़ दिया। अस्पताल लाए जाने से पहले ही उसका बहुत खून बह चुका था और उसका नाजुक शरीर गहरे जख्मों का दर्द नहीं झेल सका। उन्होंने बताया कि नवजात बच्ची को शाजापुर के जिला अस्पताल से बेहद गंभीर हालत में बुधवार रात इंदौर के एमवायएच भेजा गया था जहां पोस्टमॉर्टम के बाद बच्ची के शव को उसके परिजनों को शुक्रवार को सौंप दिया गया।

शाजापुर जिले के मोहन बड़ोदिया थाने के प्रभारी उदय सिंह अलावा ने बताया कि बच्ची का जन्म जिले के एक अस्पताल में मंगलवार को हुआ था। उसके माता-पिता मजदूरी करते हैं। किसी अज्ञात आरोपी ने बुधवार को उस पर किसी धारदार हथियार से वार किए, जब वह केवल एक दिन की थी और अस्पताल में अपनी मां के पास ही थी।

उन्होंने बताया, ‘हमें बच्ची पर हमले की सूचना तब मिली, जब उसे शाजापुर जिला अस्पताल से ले जाकर इंदौर के एमवायएच में भर्ती कराया गया। बच्ची के माता-पिता ने हमें उस पर हमले की सूचना नहीं दी थी।’ अलावा ने बताया कि बच्ची की मां मंजू और उसके पिता दरियाव बंजारा ने शाजापुर के अस्पताल की एक नर्स पर नवजात पर हमले का संदेह जताया है। लेकिन पुलिस को बच्ची के माता-पिता पर भी शक है। उनसे भी पूछताछ की जायेगी। उन्होंने बताया कि पुलिस मामले की विस्तृत जांच कर रही है। मामले में हत्या की प्राथमिकी दर्ज की जायेगी।

Advertisement
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.