‘केम छो ट्रंप’: मोदी-ट्रंप का अब तक का सबसे बड़ा मेगा शो होगा अहमदाबाद में, जानें पूरा कार्यक्रम

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी अपने दोस्त अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप का भव्य स्वागत करने के लिए तैयार हैं। सूत्रों की मानें तो दोनों नेताओं का यह अब तक का सबसे बड़ा मेगा शो होगा। अमेरिका में हुए ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम में जहां 50 हजार लोग शामिल हुए थे। वहीं, अहमदाबाद में एक लाख लोगों के शामिल होने की उम्मीद है। भारत यात्रा के दौरान ट्रंप अहमदाबाद में भव्य रोड शो में शामिल होंगे और साबरमती आश्रम का दौरा करेंगे।

सूत्रों ने बुधवार को बताया कि वह प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ यहां नवनिर्मित क्रिकेट स्टेडियम का उद्घाटन भी करेंगे। उन्होंने बताया कि वे 24 फरवरी को अहमदाबाद पहुंच सकते हैं। इस रोडशो के लिए अहमदाबाद हवाईअड्डे से साबरमती आश्रम तक 10 किलोमीटर तक के मार्ग को सजाया जाएगा। इसके बाद अमेरिकी राष्ट्रपति साबरमती आश्रम का दौरा करेंगे, जो महात्मा गांधी के यहां ठहरने के दौरान देश के स्वतंत्रता संग्राम का केंद्र रहा है।

सूत्रों ने बताया कि बाद में ट्रंप और मोदी शहर के मोटेरा इलाके में हाल ही में बनाए गए सरदार वल्लभभाई पटेल स्टेडियम का उद्घाटन करेंगे और सभा को संबोधित करेंगे। इस स्टेडियम में एक लाख से ज्यादा लोगों के शामिल होने की उम्मीद है। स्टेडियम में आयोजित यह कार्यक्रम पिछले साल अमेरिका में हुए ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम जैसा होगा। दोनों नेताओं का अहमदाबाद में नवनिर्मित मोटेरा स्टेडियम में साझा संबोधन का कार्यक्रम है।

अभेद्य सुरक्षा व्यवस्था होगी
ट्रंप के अहमदाबाद आने से पहले सरदार पटेल मोटेरा क्रिकेट स्टेडियम की सुरक्षा बढ़ा दी गई है। 300 पुलिस जवान और अधिकारियों के साथ सुरक्षा के लिए एनएसजी और एसपीजी भी तैनात रहेगी। स्पेशल प्रोटेक्शन ग्रुप (एसपीजी) के आईजी राजीव रंजन भगत ने मंगलवार को सुरक्षा की समीक्षा की। वहीं, सोमवार को अहमदाबाद एयरपोर्ट पर कमिश्नर आशीष भाटिया ने अफसरों के साथ 4 घंटे बैठक की। 2-3 दिन में यूएस सीक्रेट सर्विस के अधिकारियों के अहमदाबाद पहुंचने के आसार हैं। अगले चार दिनों में सुरक्षा प्लान तैयार किया जाएगा।

डांडिया भी खेल सकते हैं
मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, अहमदाबाद दौरे के दौरान अमेरिकी राष्ट्रपति डांडिया भी खेल सकते हैं। मालूम हो कि चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग 2014 में अहमदाबाद आए थे। रिवरफ्रंट पर मोदी-जिनपिंग के एक ही झूले पर झूलने की तस्वीरें आई थीं। सूत्रों के मुताबितक, अब ट्रंप आने वाले हैं तो मोदी-ट्रंप के साथ डांडिया खेलने की योजना पर विचार हो रहा है।

पिछले साल चार बार मिले 
पिछले तीन वर्षों में मोदी और ट्रंप के बीच मित्रवत संबंध रहे हैं। 2019 में दोनों ने चार बार मुलाकात की थी। इसमें जी-20 सम्मेलन और हउदी कार्यक्रम शामिल हैं। इसके अलावा इस वर्ष अब तक दोनों दो बार फोन पर बातचीत कर चुके हैं।

इसलिए अहम है यात्रा 
– यात्रा के दौरान दोनों देशों के बीच व्यापार समझौता होने की भी उम्मीद
– सामरिक व रणनीतिक भागीदारी के लिहाज से भी यह यात्रा काफी अहम होगी
– कश्मीर को लेकर पाकिस्तान के कुप्रचार एजेंडा के बीच ट्रंप की यात्रा कड़ा संदेश देगी

अहमदाबाद क्यों चुना
गुजरात प्रधानमंत्री मोदी का गृहनगर है। गुजराती समुदाय अमेरिका में भी बड़ी संख्या में है। माना जा रहा है कि राष्ट्रपति ट्रंप की यात्रा के लिए अहमदाबाद का सुझाव खुद प्रधानमंत्री मोदी ने दिया था। मोदी विदेशी राष्ट्राध्यक्षों को दिल्ली से बाहर ले जाना पसंद करते हैं। पूर्व में चीन और जापान के राष्ट्राध्यक्षों को भी मोदी गुजरात ले गए थे।

अमेरिका में 80% मोटल्स उद्योग पर गुजरातियों का कब्जा 
गुजरातियों ने अमेरिका की लगभग 80 प्रतिशत मोटल इंडस्ट्री पर अपना कब्जा जमा लिया है। इस समय अमेरिका में लगभग 17 हजार होटल व मोटल्स के मालिक गुजराती ही हैं। इसमें भी सबसे ज्यादा गुजराती पटेलों की संख्या है।

भारतीय की संख्या लगातार बढ़ रही
अमेरिका में भारतीय मूल के लोगों की आबादी 2010 से 2017 के बीच 38 पर्सेंट बढ़ी है। साउथ एशियन अमेरिकन लीडिंग टुगेदर ने हालिया रिपोर्ट में यह दावा किया है। 2017 में इंडियन-अमेरिकन लोगों की आबादी 44,02,363 हो गई थी, जो 2010 में 38.3 पर्सेंट कम 31,83,063 थी।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.