Weather in UP : उत्तर प्रदेश लिपटा कोहरे की चादर में, 28 लोगों की प्रचंड ठंड से मौत

लखनऊ। प्रचंड ठंड से जूझ रहा उत्तर प्रदेश इन दिनों कोहरे की आगोश में है। ठंड के कहर से प्रदेश में 28 लोगों ने जान गंवा दी है। ठंड और जारी शीतलहर की वजह से कानपुर शहर में दस, वाराणसी में चार, जबकि फतेहपुर, औरैया और कानपुर देहात में दो-दो लोगों की मौत हुई है। इसके बीच भी प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ देर रात रैन बसेरों का औचक निरीक्षण करने के साथ गरीबों को कम्बल बांटने में लगे हैं।

उत्तर प्रदेश इन दिनों भीषण शीतलहर व कोहरे की चपेट में हैैं। शुक्रवार को बुलंदशहर, बागपत, बिजनौर, हापुड़ आदि जिलों में तापमान 3 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया जो कि शिमला के 3.8 डिग्री सेल्सियस के मुकाबले कम रहा। प्रदेश में सबसे ठंडा जिला मथुरा रहा। यहां का तापमान गिरकर 2 डिग्री सेल्सियस पर पहुंच गया। दोपहर बाद हल्की धूप निकलने से लोगों को थोड़ी राहत मिली, लेकिन दिन ढलते ही ठंड ने लोगों को घरों में कैद होने के लिए मजबूर कर दिया। शीतलहर व गलन से लोग ठिठुरते रहे। कई जिलों में सुबह कोहरे की चादर बिछी रही। सड़कों पर वाहन रेंगते रहे। संगम नगरी प्रयागराज में कड़ाके की ठंड से आम जन-जीवन बुरी तरह से प्रभावित हो रहा है। हवाओं के चलने से गलन बढ़ गई है। कोहरे और धुन्ध की वजह से विजिबिलिटी काफी लो है, जिससे सड़क पर वाहन रेंगते दिखायी दे रहे हैं। तापमान भी 5 डिग्री सेल्सियस के नीचे आ गया है, जिससे लोगों का घरों से निकलना मुश्किल हो रहा है।

मैदानी इलाकों में शीतलहर का सितम जारी है। शुक्रवार को अवध क्षेत्र के जिलों में निकली बेजान धूप लोगों को राहत नहीं दिला सकी। शाम होते-होते हवा ने गलन और बढ़ा दी। भीषण ठंड से सुलतानपुर में दो लोगों की मौत हो गई। लखनऊ में शुक्रवार को न्यूनतम तापमान 7.7 डिग्री सेल्सियस रहा। अमेठी, सीतापुर, आंबेडकर नगर, श्रावस्ती, बहराइच और बलरामपुर में न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। अयोध्या में दोपहर करीब दो बजे तक बदली छाई रही। लखीमपुर में ठंड से एक किसान और पुजारी की मौत हो गई। मौसम विभाग के निदेशक जेपी गुप्ता के मुताबिक, 31 दिसंबर रात व एक जनवरी को बारिश के आसार हंै। वाराणसी में कुछ दिनों बाद शुक्रवार की दोपहर बाद धूप खिली, लेकिन जम्मू-कश्मीर से आ रही सुरसुराती बर्फीली हवा के आगे ढेर हो गई। लोग दिन में भी कांपते रहे। ठंड के कारण भदोही में चार, जौनपुर में दो, आजमगढ़, मऊ व गाजीपुर में एक-एक लोग की मौत हो गई। प्रतापगढ़ में ठंड की वजह से एक व्यक्ति की मौत हो गई। प्रयागराज में दो लोगों ने ठंड से दम तोड़ दिया।

बिजनौर, बागपत और बुलंदशहर में न्यूनतम तापमान 3 डिग्री रहा। अलीगढ़ में न्यूनतम तापमान 3.06 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया। मथुरा में भीषण शीतलहर के साथ तापमान लगभग जलजमाव बिंदु तक पहुंचते हुए 2 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया। सुबह कोहरे की चादर बिछी रही। प्रचंड गलन ने जनजीवन बुरी तरह से ठिठुरता रहा। मैनपुरी और एटा में तीन दिन से ठंड कहर ढा रही है। कोहरा और पाला छाने से शुक्रवार को न्यूनतम तापमान चार डिग्री सेल्सियस दर्ज हुआ। मुरादाबाद में कोहरे से रेल और सड़क यातायात प्रभावित दिखाई दिया। ठंड से एक व्यक्ति की मौत हो गई। रामपुर में दो महिला की तथा सम्भल में एक व्यक्ति की ठंड से मौत हो गई।

बीते 118 साल का टूटा रिकॉर्ड

जबरदस्त ठंड और शीतलहर की वजह से उत्तर प्रदेश के कई जिलों में स्कूलों को अगले कुछ दिनों के लिए बंद कर दिया है। गोरखपुर, वाराणसी और इटावा सहित कई जिलों में शीतलहर से लोग बेहाल हैं। इन जिलों में पारा छह डिग्री से नीचे चला गया है।

मौसम विभाग के अनुसार, 29 दिसंबर को सबसे ठंडा दिन रह सकता है। मौसम विभाग ने रविवार को सबसे ज्यादा सर्द दिन रहने का अनुमान लगाया है।

वाराणसी में सीएम योगी आदित्यनाथ ने किया रैन बसेरा का दौरा

वाराणसी के दौरे पर आए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने भयंकर ठंड में रात को रैन बसेरों का दौरा किया। इस दौरान उन्होंने यहां जरूरतमंदों के बीच कंबल वितरित किया।

Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.