करोड़ों लेकर बीसीसीआई को अलविदा कहेंगे विनोद राय-डायना एडुल्जी

भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की प्रशासकों की समिति (सिओए) प्रमुख विनोद राय और पैनल की उनकी साथी सदस्य डायना एडुल्जी में से प्रत्येक को बीसीसीआई में 33 महीने के कार्यकाल के लिए लगभग 3.5 करोड़ रुपये भुगतान किया जाएगा। टीम इंडिया के पूर्व कप्तान सौरव गांगुली ने आज बीसीसीआई की कमान संभाल ली। करीब 30 महीने पहले जस्टिस आरएम लोढ़ा ने बीसीसीआई प्रशासन को भंग किया था, जिसके बाद आज बीसीसीआई को नया प्रशासन मिलेगी। जस्टिस लोढ़ा का फैसला आने के बाद कमेटी ऑफ एडमिनिस्ट्रेटर्स (सीओए) अस्तित्व में आया था। सुप्रीम कोर्ट द्वारा नियुक्त सीओए का कार्यकाल बुधवार को बीसीसीआई एनुअल जनरल मीटिंग में नए पदाधिकारियों के पदभार ग्रहण करने के साथ ही समाप्त हो गया। राय और पूर्व भारतीय महिला कप्तान एडुल्जी दोनों जनवरी 2017 में नियुक्ति के बाद से ही सीओए का हिस्सा रहे हैं, जबकि उनके साथी रामचंद्र गुहा और विक्रम लिमये ने विभिन्न कारणों से त्यागपत्र दे दिया था।

सीओए के सभी सदस्यों को 2017 के लिए प्रतिमाह दस लाख रुपये, 2018 के लिए 11 लाख रुपये और 2019 के लिए 12 लाख रुपये प्रतिमाह की दर से भुगतान किया जाएगा। बीसीसीआई के वरिष्ठ अधिकारी ने पीटीआई से कहा कि न्यायमित्र पीएस नरसिम्हा से चर्चा के बाद इस राशि को अंतिम रूप दिया गया। इस तरह से एडुल्जी और राय दोनों में से प्रत्येक को 3.5 करोड़ रुपये मिलेंगे, जबकि विक्रम लिमये, रामचंद्र गुहा और रवि थोडगे को उनके कार्यकाल के अनुसार भुगतान किया जाएगा। बीसीसीआई की नई टीम में सौरव गांगुली अध्यक्ष, गृह मंत्री अमित शाह के बेटे जय शाह सेकेट्री और अनुराग ठाकुर के भाई अरुण सिंह का कोषाध्यक्ष होंगे। सुप्रीम कोर्ट के निर्देश में यह भी कहा गया है कि प्रशासकों की समिति और अन्य अधिकारियों के खिलाफ क्रिकेट संगठन में किए गए किसी भी कार्य के लिए बीसीसीआई द्वारा कोई कदम नहीं उठाया जाएगा और अगर कोई कदम उठाया भी जाता है तो उससे पहले स्वीकृति लेनी होगी।

Advertisement
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.