INDvSA: विशाखापट्टनम टेस्ट जीतकर विराट सेना के हौसले बुलंद, दूसरे टेस्ट में कैसा होगा चक्रव्यूह?

भारत-दक्षिण अफ्रीका के बीच तीन मैच की टेस्ट सीरीज का दूसरा मुकाबला पुणे में 10 से 14 के अक्टूबर के बीच खेला जाएगा। विशाखापट्टनम टेस्ट जीतकर विराट सेना के हौसले बुलंद हैं। पहले टेस्ट मुकाबले में भारतीय टीम ने हर क्षेत्र में जबरदस्त प्रदर्शन किया था। बल्लेबाजों ने स्कोर बोर्ड पर रन लगाए थे और गेंदबाजों ने दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों की गिल्लियां बिखेरी थीं। दूसरे टेस्ट में भी टीम इंडिया कि कोशिश होगी कि, वो विशाखापट्टन वाले अपने शानादर प्रदर्शन को दोहराए और टेस्ट जीत सीरीज अपने नाम करे। पुणे टेस्ट में मेहमानों को मात देने के लिए कप्तान विराट कोहली को एक बार फिर से बेहतरीन टीम कॉम्बिनेशन के साथ मैदान पर उतरना होगा। आइए जानते हैं कि पुणे टेस्ट के लिए कैसी हो सकती है टीम इंडिया की प्लेइंग 11…
ओपनिंग
भारतीय टीम की पारी की शुरुआत एक बार फिर से दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ सीरीज के दूसरे टेस्ट में भी विस्फोटक रोहित शर्मा और युवा मयंक अग्रवाल के कंधों पर होगी। दोनो की जोड़ी ने विशाखापट्टनम टेस्ट में भारतीय टीम को जबरदस्त शुरुआत दिलाई थी। दोनों के बीच 317 रन की सलामी साझेदारी हुई थी। रोहित ने दोनों ही पारियों में शतक जड़ा था, जबकि मयंक ने पहली पारी में शानदार बल्लेबाजी करते हुए दोहरा शतक लगाया था। पुणे टेस्ट में भी देश की निगाहें रोहित और मयंक की सलामी जोड़ी पर टिकी होंगी और टीम चाहेगी कि दोनों के बल्ले से एकबार फिर से धमाकेदार पारी निकले।
मध्यक्रम
नंबर तीन पर बल्लेबाजी चेतेश्वर पुजारा करेंगे। सीरीज के पहले टेस्ट की पहली पारी में पुजारा के बल्ले से रन नहीं निकला था, लेकिन दूसरी पारी में उन्होंने अपने बदले हुए तेवर के साथ तेजी से रन बटोरेने की कोशिश की थी और 81 रन की शानदार पारी खेली थी। पुजारा ने रोहित शर्मा के साथ मिलकर 169 रन की साझेदारी भी निभाई थी। नंबर चार पर बल्लेबाजी का जिम्मा कप्तान विराट कोहली संभालेंगे। पहली पारी में विराट का बल्ला भी पुजारा की तरह खामेश रहा था, लेकिन दूसरी पारी में टेस्ट के चौथे दिन उन्होंने तेजी से रन बटोरे थे। विराट के बाद मध्यक्रम का दारोमदार टेस्ट में टीम के उपकप्तान अजिंक्य राहाणे पर होगा। रहाणे का रोल इस टीम में परिस्तिथियों के अनुसार खेलने की है।
ऑलराउंडर
ऑलराउंडर के रूप में रवींद्र जडेजा का खेलना तय है। उन्होंने विशाखापट्टनम टेस्ट में बल्ले और गेंद दोनों से कमाल दिखाया था। पहली पारी में नाबाद 30 रन बनाए थे, तो दूसरी पारी में ताबड़तोड़ 32 गेदों पर 40 रन की पारी खेली थी। जडेजा ने इस मैच में छह विकेट अपने नाम किए थे। पुणे टेस्ट में विराट कोहली और पूरा देश जडेजा से एकबार फिर से शानदार प्रदर्शन की उम्मीद करेगा।
विकेटकीपर
विकेटकीपर के तौर ऋिद्धिमान साहा ही पुणे टेस्ट में भी दस्ताने पहने विकेट की पीछे नजर आएंगे। ऋषभ पंत भी टीम टेस्ट टीम का हिस्सा हैं, लेकिन अनुभव के आधार पर विराट कोहली साहा को एक बार फिर से अंतिम 11 में शामिल कर सकते हैं।
गेंदबाजी
तेज गेंदबाजी की कमान मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा एक बार फिर से पुणे टेस्ट में भी संभालेंगे। इशांत विशाखापट्टनम टेस्ट में कुछ खास असरदार साबित नहीं हुए थे, लेकिन शमी ने दूसरी पारी में दक्षिण अफ्रीकी बल्लेबाजों पर कहर ढा दिए। पांचवे दिन शमी ने धारदार गेंदबाजी करते हुए पांच विकेट अपने नाम किए। स्पिनर के तौर पर रविचंद्रन अश्विन का खेलना तय है। उन्होंने पहली पारी में सात विकेट लिए थे। उनके साथ कुलदीप यादव को पुणे टेस्ट में मौका मिल सकता है।
दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ दूसरे टेस्ट में ऐसी हो सकती टीम इंडिया की प्लेंइंग 11ः रोहित शर्मा, मयंक अग्रवाल, चेतेश्वर पुजारा, विराट कोहली (कप्तान) अजिंक्य रहाणे (उप कप्तान) रवींद्र जडेजा, ऋिद्धिमान साहा, आर अश्विन, कुलदीप यादव, मोहम्मद शमी और इशांत शर्मा।

Loading...
Disclaimer : इस न्यूज़ पोर्टल को बेहतर बनाने में सहायता करें और किसी खबर या अंश मे कोई गलती हो या सूचना / तथ्य में कोई कमी हो अथवा कोई कॉपीराइट आपत्ति हो तो वह samayduniya7@gmail.com पर सूचित करें। साथ ही साथ पूरी जानकारी तथ्य के साथ दें। जिससे आलेख को सही किया जा सके या हटाया जा सके ।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.